Hit Enter to search or Esc key to close
TOP Haunted Places india

क्या आप भूतों में विश्वास करते हैं? भारत की ये प्रेतवाधित जगहें आपको भूतो में विश्वास दिला देंगी

क्या आप भूतों में विश्वास करते हैं? भारत की ये प्रेतवाधित जगहें आपको भूतो में विश्वास दिला देंगी

TOP Haunted Places india

दुनिया में दो तरह के लोग होते हैं, पहले वो जो अलौकिक या भूतिया चीजों से दूर रहना पसंद करते हैं, वो जो ऐसी जगहों पर जाने से बचते हैं जो दिखने में भूतिया और डरावनी हों। और दूसरी तरह के लोग जो ऐसी भूतिया जगहों को एक्सप्लोर करना पसंद करते हैं, क्या आप किसी ऐसे व्यक्ति है जो अलौकिक के प्रति आकर्षित होता है, दुनिया में काफी सारे लोग हैं जो रहस्यमय अज्ञात से घिरे रहना पसंद करते हैं।

इस लिस्ट में कुछ ऐसी भूतिया जगहें भी हैं, जिनकी कहानियां आपकी  रातों की नींद हराम कर सकती हैं। यदि आप सीमाओं को आगे बढ़ाना चाहते हैं और अलौकिक का पता लगाना चाहते हैं, तो यह भारत के कुछ सबसे डरावने स्थान हैं जिन्हें अवश्य देखना चाहिए

Bhangarh Fort, Rajasthan (भानगढ़ किला)

भानगढ़ का किला भारत में सबसे प्रेतवाधित स्थान माना जाता है। इसे इतना खतरनाक माना जाता है कि भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण ने भी कानूनी तौर पर किसी को भी अंधेरे के बाद भानगढ़ किले में प्रवेश करने से रोक दिया है। भानगढ़ की कहानी के अनुसार, एक तांत्रिक को राजकुमारी रत्नावती से प्यार हो गया, जिसे ‘राजस्थान का गहना’ बताया गया है’ । तान्त्रिक ने उस पर जादू करने की योजना बनाई ताकि रानी तांत्रिक की और आकर्षित हो जाये।

हालांकि, तान्त्रिक की योजना सफल नहीं हो पायी और उसकी मौत हो गई। मरने से पहले, उसने शहर को शाप दिया की जिस शाप की वजह से भानगढ़ एक ही रात में बर्बाद हो गया और अब किसी के लिए भी रहने योग्य है। ऐसा माना जाता है कि मंदिरों और घरों की छतें बनते ही गिर जाती हैं। और किले में रात को जाना माना है  जिन लोगों ने रात भर किले में रहने की हिम्मत की है, उन्होंने एक महिला के कदमों की आहट और चीख-पुकार की सूचना दी है। आस-पास के स्थानीय लोगों का मानना है कि जो कोई भी अंधेरे के बाद किले का दौरा करता है, वह कभी वापस नहीं आएगा, इसलिए  मेरा सुझाव यही है की आप भी रात को यहाँ ना ही जाये तो अच्छा है पर अगर आपको फिर भी यहाँ रात को जाना है तो अपने जोखिम पर यहां जाएं।

Mukti Kothari, Lohaghat (मुक्ति कोठरी)

मुक्ति कोठारी उत्तराखंड की सबसे डरावनी जगहों में से एक है। इस जगह के आसपास रहने वाले लोगों ने इस जगह से आने वाली डरावनी आवाजें सुनी हैं। यह जगह शुरू में एक ब्रिटिश दंपति का बंगला था, उन्होंने इसे जिले की मदद के लिए एक अस्पताल को दान कर दिया था।

यह अस्पताल एक सफल निर्माण हुआ और 24×7 आने वाली भीड़ के साथ बहुत लोकप्रिय हो गया। पर एक दिन यहाँ एक नया डॉक्टर आया जिसमें असामान्य ‘कौशल’ था। उनके पास मरीजों के भविष्य की भविष्यवाणी करने का ‘कौशल’ था और वो मरीजों की मौत की तारीख तक बता दिया करता था. बहुत अजीब है ना? जब भी कोई नया मरीज भर्ती होता, तो डॉक्टर उसकी मृत्यु की तारीख और सबसे डरावनी चीज की भविष्यवाणी करता था?

और अजीब बात ये थी की वे लोग ठीक उसी समय और दिन मर जाते थे जैसा उसने बताया था। स्थानीय लोगों का मानना है कि इन सबके पीछे कोई बड़ा राज छिपा था। निर्दोष मरीज़ ‘मुक्ति कोठारी’ नामक एक कमरे में थे और डॉक्टर ने उसकी भविष्यवाणी को सही साबित करने के लिए उन्हें मार डाला। अब उन मासूम मरीजों के भूत बंगले में घूमते हैं।

Dow Hill, West Bengal (डॉव हिल)

स्थानीय लोगों के अनुसार, डॉव हिल के छोटे से हिल स्टेशन के आसपास के जंगल और पास के विक्टोरिया बॉयज़ स्कूल में भयानक भूत रहते हैं। माना जाता है कि यह कई आत्माओं का निवास स्थान है, स्कूलों के आस-पास के जंगल में अनगिनत मृत शरीर पाए गए हैं और कई स्थानीय और पर्यटक का कहना है की उन्होंने एक सर कटे लड़के को भी वह देखा है  जो की लोगो का पीछा करता है और बाद में जंगल में कहीं गायब हो जाता है

Tower of Silence (मौन की मीनार)

टावर ऑफ़ साइलेंस यह एक ऐसी जगह है जिसके बारे में सुन के रूह काँप जाती है । टावर्स ऑफ साइलेंस में गिद्धों को खिलाने के लिए  मृत्यु के बाद शरीर को खुले में छोड़ दिया जाता था ! अपने मृतकों को खुले में गिद्धों के लिए छोड़ना एक पारसी परंपरा का हिस्सा था  , उन लोगो के अनुसार यह अर्थ पर्यावरण को स्वच्छ और अदूषित रखने के एक तरीका था

उनका मानना था मृत शरीर को जलना या फिर उसको दफ़न करना पृथ्वी के लिए ठीक नहीं है, इसलिए वो लोग टावर्स ऑफ साइलेंस पर मृत शरीर को खुली हवा में सड़ने के लिए छोड़ देते थे । यह गूढ़ अनुष्ठान टॉवर ऑफ साइलेंस को एक भयानक गंतव्य बनाता है। सड़े हुए शवों से भरे एक ऊंचे टॉवर की कल्पना रोंगटे खड़े कर देती है ।

Kuldhara Village, Rajasthan (कुलधरा गांव)

कुलधरा भारत के सबसे प्रेतवाधित स्थानों में से एक है। कुलधरा गाँव मूल रूप से पालीवाल ब्राह्मणों द्वारा बसाया गया था, कहा जाता है की कुलधरा के सभी ग्रामीणों  अचानक गायब हो गए थे , अब वो लोग एक रात में अचानक से कहा गायब हो गए यह बात अभी भी रहस्मय है। ऐसा कहा जाता है कि राज्य मंत्री गांव की एक लड़की के प्यार में पागल हो गया था,  उन्होंने लड़की से शादी करने का प्रस्ताव भेजा पर लड़की और उसका परिवार शादी के लिए राजी नहीं हुआ तो राज्य मंत्री ने पूरे गांव पे भारी कर लगाने की धमकी दी, पर पुरे गांव ने लड़की के सम्मान की रक्षा के लिए, कुलधरा के प्रमुख गाँवों को त्याग दिया।

Shaniwar Wada, Pune (शनिवार वड़ा)

शनिवार वाड़ा की कहानी बहुत डरावनी और खौफनाक है। कहा जाता है कि इस किले में एक 13 साल के बच्चे का भूत रहता है। स्थानीय लोगों के अनुसार, शनिवार वाड़ा में एक राजकुमार और पेशवा सिंहासन के उत्तराधिकारी की बेरहमी से हत्या कर दी गई थी। आज, “काका माला वाचा” (चाचा, मुझे बचाओ) की दर्दनाक चीखें अंधेरे के बाद किले में गूंजती हैं, खासकर पूर्णिमा के दौरान।

Delhi Cantonment Area (दिल्ली छावनी क्षेत्र)

अगर आप दिल्ली से हैं तो आपने इस जगह के बारे में जरूर सुना होगा यह दिल्ली के सबसे खूबसूरत स्थानों में से एक है, लेकिन रात को इस जगह की एक अलग कहानी है। आप इस क्षेत्र के रीढ़ की हड्डी को ठंडा करने वाले डर का अनुभव कर सकते है, जो निर्विवाद रूप से दिल्ली के सबसे प्रेतवाधित स्थानों में से एक है। स्थानीय लोगों और राहगीरों का दावा है कि उन्होंने सफेद साड़ी में एक महिला को लिफ्ट मांगते देखा है। और जो लोग उसे लिफ्ट देने के लिए राजी हो गए थे वे फिर कभी नहीं देखे जाते। और जो नहीं रुकते उन्होंने दावा किया है कि महिला उनकी खिड़की के समानांतर चलती है, कार या मोटरसाइकिल की गति से मेल खाती है जब तक कि वे दिल्ली छावनी की सीमा तक नहीं पहुंच जाते।

Lambi dehar mines, Mussoorie (लंबी देहर माइंस)

यह कभी हजारों श्रमिकों को रोजगार देने वाली पूरी तरह से चालू चूने की खदान हुआ करती थी , मसूरी की लंबी देहर खदान को अब छोड़ दिया गया है और इसे भारत के सबसे डरावने स्थानों में से एक माना जाता है। ये भूतिया किस्से 1990 में शुरू हुए उस दौरान गलत खनन प्रथाओं के कारण लगभग 50,000 खनिकों की मृत्यु हो गई। लेकिन उस घटना के बाद आज भी रात में रोने और चिल्लाने की आवाजे यहाँ सुनी जा सकती है, और उसके साथ-साथ दुर्घटनाएं और अजीबोगरीब चीज़ें देखने को मिलती हैं।

Tunnel No. 33 On Shimla (सुरंग संख्या 33)

कालका-शिमला रेल मार्ग पर टनल नंबर 33 हिमाचल प्रदेश के सबसे प्रेतवाधित स्थानों में से एक है। ब्रिटिश इंजीनियर कैप्टन बरोग को शिमला कालका हाईवे के रास्ते में इस सुरंग के निर्माण की जिम्मेदारी सौंपी गई था, जिसको निभाने में वो असफल रहा।

अंग्रेजों ने उस पर जुर्माना लगाया और उसने अपमान के कारण खुद को मार डाला। कहा जाता है की उसकी उसकी आत्मा आज भी इस सुरंग में घूमती है जिसको स्थानय लोगो के दुवारा देखे जाना का दावा भी किआ जाता है। कई लोगों ने एक महिला को रेल की पटरी पर चलते हुए भी देखा है जो धीरे-धीरे गायब हो जाती है

Pari Tibba , Mussoorie (परी टिब्बा)

 

 

प्रसिद्ध लेखक रस्किन बॉन्ड ने मसूरी में घने जंगलों के बीच बसे अपनी कई कहानियों में परी टिब्बा के बारे में उल्लेख किया है, यह अपसामान्य स्थान बिजली गिरने के लिए अतिसंवेदनशील है। यदि आप कभी इस स्थान पर जाते हैं, तो आपको कई जले हुए पेड़ दिखाई देंगे, जिन पर बिजली गिरने के कारण भूरे और काले निशान हैं। इस पहाड़ी से कई कहानियां जुड़ी हुई हैं, जिनमें से एक है प्रेमियों की कहानी। ऐसा माना जाता है कि बिजली गिरने से इस स्थान पर दो प्रेमियों की मौत हो गई। कुछ दिनों के बाद, उनके झुलसे हुए शव बरामद किए गए लेकिन उनकी आत्माएं जंगल में भटकती रहीं।

ये थी भारत में कुछ सबसे डरावनी और सबसे प्रेतवाधित जगहें। जिनकी कहानिया प्रत्येक में दुखद और रीढ़ की हड्डी को ठंडा करने वाली हैं। यह जगह ऐसे लोगो में काफी लोकप्रिय हैं जो भूतों और आत्माओं से मोहित हैं। यदि आप उनमें से एक हैं, तो आप जानते हैं कि कहाँ जाना है! हालांकि, इस संबंध में सभी आवश्यक सावधानी बरतें।

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *